Tuesday, July 30, 2013

मुहब्बत नहीं है मात्रात्मक इकाई


मुहब्बत नहीं है मात्रात्मक इकाई कोई
मुहब्बत है एक गुणात्मक अवधारणा
जो न नापी जा सकती है
न  ही मिलती उपहार में
मुहब्बत होती है अनादि और अनंत
बढ़ती है साझा करने से ज्ञान की तरह
नष्ट होती है संचय से ज्ञान की ही तरह.
[ईमि/३०.०७.२०१३]

4 comments:

  1. आपकी रचना कल बुधवार [31-07-2013] को
    ब्लॉग प्रसारण पर
    हमने जाना
    आप भी जानें
    सादर
    सरिता भाटिया

    ReplyDelete
  2. जी, शुक्रिया, सरिता जी. 'ब्लॉग प्रसारण देखा. साधुवाद.

    ReplyDelete
  3. वाह सही बात पर अनोखी रचना ।

    ReplyDelete